दमा

अस्थमा का निदान

अस्थमा और बार-बार होने वाली खांसी में भ्रमित होना बहुत सामान्य है, क्योंकि दोनों के लक्षण समान होते हैं. इसलिए, वास्तविक समस्या का अक्सर गलत उपचार किया जाता है, या बिल्कुल इलाज नहीं किया जाता. हालांकि, चिंता करने का कोई कारण नहीं है. क्योंकि, आप शुरुआती चरण में अस्थमा का निदान कर सकते हैं. चिकित्सा इतिहास अपने डॉक्टर को अपने लक्षणों, दवाओं, एलर्जी और आप द्वारा सामना की जा रही स्वास्थ्य संबंधी अन्य समस्याओं के बारे में सटीक जानकारी देना महत्वपूर्ण है. इससे आपके डॉक्टर को आपकी समस्या का तुरंत और सही तरीके से निदान करने में मदद मिलेगी. परिवार का इतिहास अस्थमा अक्सर वंशानुगत होता है. इसलिए, अपने परिवार के चिकित्सा इतिहास से अवगत रहना महत्वपूर्ण है, जैसे यह पता लगाना कि क्या आपके परिवार में किसी अन्य को भी यही समस्या थी या नहीं. यह आपके डॉक्टर को आपकी तकलीफ में थोड़ा गहराई से देखने में मदद करेगा और यह निर्धारित किया जा सकेगा कि आपको अस्थमा के लिए जांच कराने की जरूरत है या नहीं. शारीरिक परीक्षा और जांचें जबकि अधिकांश निदान चिकित्सा इतिहास पर आधारित होते हैं, लेकिन आपके डॉक्टर श्वसन जांच कराने की भी सिफारिश कर सकते हैं, ताकि समस्या और दिए जाने वाले उपचार के बारे में पूरी तरह से सुनिश्चित हो सकें.

पीक-फ्लो मीटर टेस्ट
पीक-फ्लो मीटर एक छोटा, हाथ से पकड़ा जाने वाला डिवाइस है जो आपके फेफड़ों की शक्ति निर्धारित करने में मदद करता है. आपको बस इतना करना है कि डिवाइस में फूंक मारनी है, और यह आपको दिखाएगा कि आपके फेफड़े कितने मजबूत हैं.

स्पाइरोमेट्री टेस्ट
अपने लक्षणों को जानने और जांच के बाद, अगर डॉक्टर को संदेह होता है कि आपको अस्थमा है तो वह आपके फेफड़ों की क्षमता निर्धारित करने के लिए स्पाइरोमेट्री टेस्ट कर सकता/ती हैं. स्पाइरोमीटर आपके फेफड़ों द्वारा रोकी जा सकने वाली हवा की मात्रा को मापने के साथ-साथ यह भी जांचता है कि फेफड़ों में हवा कितनी अच्छी तरह से अंदर जाती है और बाहर आती है. परिणाम मान और ग्राफ के रूप में दिखाई देते हैं.

हालांकि दोनों जांचें निदान करने और आपको अस्थमा होने पर आपके स्वास्थ्य में सुधार की निगरानी
करने में सहायता करते हैं, लेकिन 6 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए उनकी सिफारिश नहीं की जाती.
इसलिए, आपके बच्चे के अस्थमा का जल्दी और सही निदान सुनिश्चित करने के लिए आपको बाल रोग
विशेषज्ञ के साथ मिलकर ध्यान से काम करने की ज़रूरत है. आपको इसके होने के कारणों (ट्रिगर)
को खोजने, लक्षणों पर ध्यान देने और कम उम्र से अस्थमा को नियंत्रित करने के लिए बच्चे के सुधार
की निगरानी करने पर ध्यान देना आवश्यक होगा.
 

Please Select Your Preferred Language